Page Nav

HIDE

Gradient Skin

Gradient_Skin

Breaking News

latest

नालंदा मे‍डिकल कॉलेज में कोरोना विस्‍फोट एक साथ मिले 84 पॉजिटिव

पटना बिहार में कोरोना वायरस का संक्रमण एक बार फिर से तेजी से फैलने लगा है  इस बार कोरोना वॉरियर्स कहे जाने वाले डॉक्‍टर्स बड़ी संख्‍या में ...





पटना बिहार में कोरोना वायरस का संक्रमण एक बार फिर से तेजी से फैलने लगा है  इस बार कोरोना वॉरियर्स कहे जाने वाले डॉक्‍टर्स बड़ी संख्‍या में कोरोना की चपेट में आए हैं
पटना सिटी के अगमकुआं स्थित नालंदा मेडिकल कॉलेज में कोरोना के 84 मामले सामने आने से स्‍थानीय प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है दरअसल कोरोना जांच के लिए एनएमसीएच में कैंप लगाया गया था इसमें 194 छात्रों की जांच की गई थी जिनमें से 84 छात्रों की RT-PCR रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. एनएमसीएच के अधीक्षक डॉ. विनोद कुमार सिंह ने 84 मेडिकल छात्रों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने की पुष्टि की है गौरतलब है कि बीते शनिवार को जांच के लिए 69 सैंपल लिए गए थे जिनमें 12 जूनियर डॉक्टरों की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई थीइनमें से 5 मेडिकल छात्रों को एनएमसीएच में भर्ती कराया गया है
 नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्‍पताल  में कोरोना विस्‍फोट 
पॉजिटिव होने वालों में पोस्‍ट ग्रैजुएट अंडर ग्रैजुएट के छात्र और इंटर्न शामिल हैं मेडिकल कॉलेज में एक साथ 84 पॉजिटिव मामले सामने आने से शासन से लेकर प्रशासन तक में हड़कंप मचा हुआ है बता दें कि पिछले कुछ सप्‍ताह से बिहार के साथ ही पूरे देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले फिर से बढ़ने लगे हैं हालात को देखते हुए बिहार सरकार ने 31 दिसंबर से 2 जनवरी तक के लिए सभी पार्क और चिड़ियाघरों को बंद कर दिया है ताकि भीड़ इकट्ठा न होने पाए
मुजफ्फरपुर में भी कोरोना की मार
पटना के साथ मुजफ्फरपुर में भी कोरोना की मार पड़ी है मुजफ्फरपुर में रविवार को कुल 2948 लोगों के सैंपल लिए गए थे इनमें से 28 की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है इससे प्रशासन अलर्ट हो गया है वहीं स्‍वास्‍थ्‍य महकमे में हड़कंप की स्थिति है बता दें कि बिहार में अभी भी ओमिक्रॉन वैरिएंट की जांच की व्‍यवस्‍था नहीं है  इसके लिए सैंपल्‍स को जांच के लिए दिल्‍ली भेजा जाता है ऐसे में फिलहाल यह कहना मुश्किल है कि प्रदेश में ओमिक्रॉन के कितने मामले सामने आए हैं