Page Nav

HIDE

Gradient Skin

Gradient_Skin

Breaking News

latest

कबीरचौरा समेत प्रदेश के छह मंडलीय अस्पतालों में खुलेगी कोरोना जांच प्रयोगशाला, 12 करोड़ होंगे खर्च

वाराणसी । कोरोना वायरस की जांच के लिए कबीरचौरा समेत प्रदेश के छह मंडलीय अस्पतालों में बायोसेफ्टी लेवल (बीएसएल)-टू की प्रयोगशाला स्थापित की ज...





वाराणसी । कोरोना वायरस की जांच के लिए कबीरचौरा समेत प्रदेश के छह मंडलीय अस्पतालों में बायोसेफ्टी लेवल (बीएसएल)-टू की प्रयोगशाला स्थापित की जाएंगी । इसमें रियल टाइम (आरटी) पेरीमिरेज चेन रिएक्शन (पीसीआर) जांच हो सकेगी । प्रत्येक प्रयोगशाला के निर्माण में दो-दो करोड़ रुपये खर्च होंगे । इस तरह कुल 12 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे । कोविड केयर फंड से यह धनराशि दी जाएगी । प्रयोगशाला निर्माण के लिए मेडिकल सप्लाई कारपोरेशन लिमिटेड को नौ करोड़ की धनराशि जारी भी कर दी गई है ।
इन नई लैब के बनने के बाद प्रदेश में 31 लैब हो जाएंगी । कबीरचौरा के अलावा जिन पांच मंडलीय अस्पतालों में कोरोना जांच के लिए लैब खोली जा रही है, उनमें मुरादाबाद, बरेली, विंध्याचल, गोंडा और अलीगढ़ का पं. दीनदयाल उपाध्याय संयुक्त अस्पताल शामिल है। अभी बीएचयू समेत सरकारी मेडिकल कॉलेज व वैज्ञानिक संस्थानों की बीस लैब और पांच प्राइवेट लैब में कोरोना जांच हो रही है । हर दिन 25 लैब में करीब साढ़े पांच हजार तक नमूने जांचे जा रहे हैं । आगे छह लैब और खुलने पर इनकी संख्या बढ़कर 31 हो जाएगी । कबीरचौरा मंडलीय अस्पताल के एसआइसी डा. बीएन श्रीवास्तव के अनुसार शासन की ओर सेे लैब के लिए स्थान की जानकारी मांगी गई थी । इसकी व्यवस्था हो जाने से जांच में तेजी आएगी ।